Online Chhattisgarh

Pooja Sharma   2018-01-14

देशभर में आज मकर संक्रांति पर मची खुशियों की धूम

OnlineIndiaडेस्क। देश भर में आज खुशियों का माहौल है। उत्तर भारत में लोग जहां मकर संक्रांति मना रहे हैं, तो वहीं केरल में पोंगल, असम में माघ बिहु और गुजरात में लोग उत्तरायन मना रहे हैं। पूरे देश में बेहद धूमधाम से मकर संक्रांति का पर्व मनाया जा रहा है। हिंदुओं के लिए इस पर्व का विशेष महत्व है। इस मौके पर पीएम नरेंद्र मोदी ने सभी देशवासियों को शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने ट्विटर पर लिखा- मकर संक्रांति के पावन अवसर पर सभी देशवासियों को ढेरों बधाई।

हिन्दू मान्यताओं के अनुसार, साल की 12 संक्रांत‌ियों में मकर संक्रांत‌ि का महत्व सबसे ज्यादा है। मकर संक्रांति के दिन देव मकर राशि में आते हैं। मकर संक्रांति को पश्चिम बंगाल में पौष संक्रांति, तमिलनाडु में पोंगल, असम में बिहू और गुजरात में उत्तरायण के नाम से जाना जाता है।

यह पर्व जनवरी माह के तेरहवें, चौदहवें या पन्द्रहवें दिन पड़ता है। मकर संक्रांति के दिन से सूर्य की उत्तरायण गति प्रारंभ होती है, इसलिए इसे उत्तरायणी भी कहते हैं। इस दिन जप, तप, दान, स्नान, श्राद्ध, तर्पण आदि धार्मिक क्रियाकलापों का विशेष महत्व है। धारणा है कि इस अवसर पर दिया गया दान सौ गुना बढ़कर पुन: प्राप्त होता है।

मकर संक्रांति पर्व पर धर्मनगरी में श्रद्धालुओं ने गंगा में आस्था की डुबकी लगाई। ब्रह्ममुहुर्त से ही श्रद्धालुओं का हरिद्वार की ह्दयस्थली हरकी पैड़ी पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया था। श्रद्धालुओं ने स्नान करने के साथ ही दान कर पुण्य कमाया। रविवार को मकर संक्रांति के अवसर पर दिल्ली, पंजाब, नेपाल, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, हरियाणा आदि राज्यों से दूर-दराज आए श्रद्धालुओं ने हरकी पैड़ी सहित धर्मनगरी के बिरला घाट, वीआईपी घाट, मालवीय घाट सहित अन्य गंगा घाटों पर पुण्य की डुबकी लगाई।

हांड कपाऊं ठंड होने बावजूद भी आस्था से सराबोर श्रद्धालुओं की टोलियां हरकी पैड़ी की ओर डग भरती नजर आ रही थी। बच्चे, नौजवान, बुजुर्ग के साथ ही महिलाएं गंगा स्नान करने के लिए श्रद्धालुओं ने हरकी पैड़ी स्थित ब्रह्मकुंड में स्नान कर सुख-समृद्धि की कामना की है।

You Might Also Like