Online Chhattisgarh

Roshan Bharti   2018-01-14

मच्छरों के प्रकोप से बचाने 12 किमी पैदल चल मच्छरदानी बांटने पहुंचे स्वास्थ्य कार्यकर्ता

OnlineIndiaकांकेर। घने जंगल और पहाड़ियों से घिरा ग्राम बासकुंड के ऊपरतोनका गांव के चलाचुर में मच्छरदानी वितरण करने दो सदस्यीय स्वास्थ्य कार्यकर्ता दो पहाड़ी पार करते हुए 12 किलोमीटर पैदल चलकर पहुंचे। पहाड़ियों के बीच होने से विकास की कई योजनाएं ग्राम चलाचुर तक नहीं पहुंच पाती है। इसके बावजूद स्वास्थ्य कर्मी यहां अक्सर पहुंचकर ग्रामीणों को अपनी सेवाएं देते रहते हैं।

स्वास्थ्य कार्यकर्ता गरिमा यादव और नाकेश नेताम अपने कंधे पर घर के 53 सदस्यों के लिए 12 किमी का पगडंडी तय कर दो पहाड़ियों को पार कर शुक्रवार को चलाचुर पहुंचे तो ग्रामीणों के चेहरे खुशी से खिल उठे। यहां मच्छरों की संख्या अधिक होने से मलेरिया की शिकायत आते ही रहती है। ग्रामीणों को मच्छरों का प्रकोप और मलेरिया से बचाने के लिए दोनों स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं ने पैदल छह किमी का सफर तय किया और ग्रामीणों को मच्छरदानी वितरण किया। इस दौरान उन्होंने ग्रामीणों को स्वास्थ्य संबंधी सलाह भी दीऔर मौसमी बीमारियों से बचने के लिए पानी उबालकर पीने व गांव में स्वच्छता रखने कहा।

ग्रामीणों ने बताया कि उन्हें मच्छरदानी मिला है। इसके लिए वे स्वास्थ्य विभाग और सरकार के प्रति आभार व्यक्त करते हैं। क्योंकि विभाग के कर्मचारियों ने अपनी जान पर खेल कर, इतने अंदर आकर उन्हें मच्छरदानी दिया और मलेरिया से बचने का तरीका सिखाया। मच्छरदानी का उपयोग कर वे मलेरिया से बचने का प्रयास करेंगे। इस पूरे अभियान को सफल बनाने में मलेरिया इंस्पेक्टर जेआर साहूमितानिन सुनीता शोरीसामरी बाईदशरू रामदशनाथ शोरीसगारु शोरी आदि ने भी सहयोग किया।

You Might Also Like