Online India

Roshan Bharti   2018-03-21

विश्व वानिकी दिवस पर छत्तीसगढ़ के CM ने वनकर्मियों को दी यह बड़ी सौगात

OnlineIndia रायपुर। छत्तीसगढ़ सरकार ने प्राथमिक वनोपज सहकारी समिति के प्रबंधकों के लिए बड़ी सौगात दी है। विश्व वानिकी दिवस पर राजधानी के साइंस कॉलेज परिसर स्थित पंडित दीनदयाल उपाध्याय ऑडिटोरियम में आयोजित समारोह में मुख्यमंत्री ने प्राथमिक वनोपज सहकारी समिति के प्रबंधकों के लिए वेतनवृद्धि की घोषणा की है।

इसी के साथ मुख्यमंत्री रमन सिंह ने कहा कि प्राथमिक वनोपज सहकारी समिति के प्रबंधकों का वेतन 12 हजार से बढ़ाकर 15 हजार प्रतिमाह किया जाएगा। वनकर्मियों को बढ़ा हुआ वेतन अप्रैल माह से मिलेगा। आपको बता दें कि राज्य सरकार की इस घोषणा से प्रदेश के करीब 900 प्रबंधकों को लाभ मिलेगा। इसके अलावा मुख्यमंत्री ने तेंदूपत्ता फड़ मुंशियों को आने-जाने में सुविधा के लिए नि:शुल्क साइकिल दिए जाने की घोषणा की। इससे करीब 10 हजार फड़ मुंशी भी लाभान्वित होंगे।

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह  ने 21 मार्च को विश्व वानिकी दिवस के अवसर पर सभी लोगों से पेड़-पौधों और जंगलों को बचाने के लिए सजग रहने का आग्रह करते हुए सक्रिय सहयोग की अपील की है। कहा कि दुनिया में जब तक वन हैं, तब तक जीवन है। डॉ. सिंह ने कहा- वनों के बिना मानव जीवन और प्राणी-जगत के जीवित रहने की कल्पना भी नहीं की जा सकती। इसलिए जंगलों की रक्षा और नए लगाए जाने वाले पेड़-पौधों की सुरक्षा हम सबकी नैतिक-सामाजिक और राष्ट्रीय जिम्मेदारी है।

डॉ. सिंह ने कहा कि छत्तीसगढ़ का यह सौभाग्य है कि बहुमूल्य वन सम्पदा, जैव विविधता और वनौषधियों की दृष्टि से छत्तीसगढ़ के हरे-भरे जंगल काफी समृद्ध हैं। हमारे वन क्षेत्र  के लाखों वनवासी परिवारों के लिए आजीविका का भी एक महत्वपूर्ण जरिया है। तेन्दूपत्ता, साल-बीज, चिरौंजी, इमली, आंवला, हर्रा, बहेड़ा आदि लघु वनोपजों के संग्रहण से उन्हें हर साल मौसमी रोजगार मिलता है। वनों में आयुर्वेदिक दृष्टि से उपयोगी जड़ी-बूटियों का भी अनमोल खजाना है। मुख्यमंत्री ने गर्मी के इस मौसम में वनों को आग से बचाने का भी आव्हान किया है।

Please wait! Loading comment using Facebook...

You Might Also Like