Online India

Pooja Sharma   2018-01-07

9 दिवसीय श्रीराम कथा का हुआ भव्य समापन

OnlineIndia रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में 30 दिसंबर से चल रही 9 दिवसीय भव्य रामकथा का 7 जनवरी को समापन हो गया। इस पावन अवसर पर शहर के श्रीराम भक्त श्रद्धालुगण श्रीराम भजन पर थिरकते और भगवान श्रीराम की भक्ति के आनंद में सराबोर नजर आए। इतना ही नहीं, इस दौरान पूरी राजधानी राममय रही। और हो भी क्यों ना क्योंकि इस कथा को व्यासपीठ पर विराजमान वाणी भूषण पंडित शंभू शरण लाटा जी महाराज ने अपने श्रीमुख से कहा। उन्होंने कहा कि रामकथा चंद्र की किरणों के समान है, जो हमें शीतलता तो प्रदान करती ही है साथ ही यह लोगों के दुःख को भी हर लेती है। यह हमारे लिए शास्त्र भी है और शस्त्र भी। अगर इसके भाव और इसकी गहराइयों को व्यक्ति समझ ले तो सारे दुःख स्वतः ही कम लगने लगते हैं। पूरे रामकथा के सार को समझने के लिए यह बात पर्याप्त है।

श्रीराम कथा का यह भव्य और दिव्य आयोजन प्रदेश के धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल की प्रेरणा से राष्ट्रीय दिशा मंच, रायपुर स्वागत एवं प्रोत्साहन समिति, श्री हनुमान महापाठ समिति द्वारा स्व. बलबीर सिंह जुनेजा इंडोर स्टेडियम परिसर रायपुर में किया गया था। जिसमें प्रथम दिन छत्तीसगढ़ के प्रमुख संत श्री राम बालकदास जी महाराज, राजस्व मंत्री प्रेमप्रकाश पांडे सहित कई गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे। वहीं इसी दिन मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने सपरिवार श्रीराम कथा का श्रवण कर श्रीराम रस का आनंद लिया। श्रीराम कथा के इस भव्य आयोजन में 3 जनवरी को प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह भी श्रीराम कथा में शामिल हुए और राम कथा का श्रवण कर पंडित शभ्भूशरण लाटा जी से आशीर्वाद लिया।

पूरे रामकथा के दौरान एक बात जो प्रमुख रुप से देखी गई वो थी छत्तीसगढ़ के कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल की सक्रियता। ज्ञात हो कि मंत्री बृजमोहन का धर्म और संस्कृति से काफी पुराना नाता रहा है। प्रदेश के किसी भी स्थान में धार्मिक अनुष्ठान से संबंधित चाहे कोई भी आयोजन हो वह अपने पूरे परिवार के साथ उस जगह पर जरूर पहुंचते हैं। धर्म और संस्कृति के मामले में छत्तीसगढ़ को विश्वव्यापी पहचान दिलाने का कोई भी मौका मंत्री अग्रवाल नहीं छोड़ते। राजिम कुंभ इसका जीता जागता उदाहरण है। पूरी रामकथा की शुरुआती तैयारियों से लेकर कथा के समापन तक धर्मस्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल की सक्रियता नौ दिन के इस आयोजन पर हर रोज नजर आई। कथावाचक शंभू शरण लाटा जी महाराज ने रामकथा के समापन अवसर पर मंत्री बृजमोहन अग्रवाल के कार्यों की जमकर सराहना की।

Please wait! Loading comment using Facebook...

You Might Also Like